राह-ए-वफ़ा में…

राह-ए-वफ़ा में…

Love shayari in hindi

     राह-ए-वफ़ा में इक ऐसा मुक़ाम भी आये, 
तेरे सिवा किसी और की जुस्तजू भी न रहे।

   Raah-e-vafa me ishq esa mukam bhi aay,
tere siva kisi aur ki jurust bhi n rahe |

Leave a Reply