मोहब्बत से ज्यादा…

मोहब्बत से ज्यादा…

        तूने मोहब्बत, मोहब्बत से ज्यादा की थी, 
मैंने मोहब्बत तुझसे भी ज्यादा की थी, 
      अब किसे कहोगे मोहब्बत की इन्तेहाँ, 
हमने शुरुआत ही इन्तेहाँ से ज्यादा की थी।

        Tune mohobbat,mohobbat se jyada ki thi,
maine mohobbat tujhse bhi jyada ki thi,
      ab kise kahoge mohobbat ki inteha,
hamne shuruaat hi se jyada ki thi |

Leave a Reply