तेरे लिए बदनाम…

तेरे लिए बदनाम…

        ऐ सनम मैं तेरे लिए बदनाम हो जाऊं, 
तू अपनी ओर खींचे वो लगाम हो जाऊं, 
       किसी और मंजिल की चाह नहीं मुझको, 
सिर्फ तेरी ही गलियों में गुमनाम हो जाऊं।

      E sanam mai tere liye badnaam ho jaau,
tu apni or khiche vo lagam ho jaau,
      kisi aur manjil ki chaah nahi mujhko,
sirf teri hi galiyo me gumnaam ho jaau |

Leave a Reply