कतरा कतरा मैं…

Amazing
5

Summary

 कतरा-कतरा मैं बहकता हूँ 
तिनका-तिनका मैं बिखरता हूँ, 
    रोम-रोम तू महकता है, 
जर्रा-जर्रा मैं तुझमें पिघलता हूँ।

      Katra-Katra mai bahakta hoo,
tinka-tinka mai bikharta hoo,
     rom-rom tu mahkta hai,
jarra-jarra mai tujhko pighalta |

कतरा कतरा मैं…

Love shayari in hindi

     कतरा-कतरा मैं बहकता हूँ 
तिनका-तिनका मैं बिखरता हूँ, 
    रोम-रोम तू महकता है, 
जर्रा-जर्रा मैं तुझमें पिघलता हूँ।

      Katra-Katra mai bahakta hoo,
tinka-tinka mai bikharta hoo,
     rom-rom tu mahkta hai,
jarra-jarra mai tujhko pighalta |

Leave a Reply